#मजद

352 posts tagged with #मजद

Photos and Videos about #मजद

👉आज के जनपथ से:- 》चक्कर काटे #बैंक के सब #मजदूर-किसान ! लूट रहें हैं बैंक को बड़े-बड़े इंसान !! -बड़े-बड़े इंसान #माल्या-नीरव मोदी ! खेल रहें हैं बैंक चढ़े इनकी ही गोदी !! -लेकर #अरबों लोन हो गए साहब #रफुचक्कर ! और #जरूरतमंद काट रहें #बैंक के चक्कर !! #pnbscam Raushan Kumar Deepak

*#positive #attitude* एक घर के पास काफी दिन से एक बड़ी इमारत का काम चलj रहा था। वहां रोज #मजदूरों के छोटे-छोटे #बच्चे एक दूसरे की शर्ट पकडकर रेल-रेल का #खेल खेलते थे। रोज कोई बच्चा इंजिन बनता और बाकी बच्चे डिब्बे बनते थे... इंजिन और डिब्बे वाले बच्चे रोज बदल जाते, पर... केवल चङ्ङी पहना एक छोटा बच्चा हाथ में रखा कपड़ा घुमाते हुए रोज गार्ड बनता था। *एक दिन मैंने देखा कि* ... उन बच्चों को खेलते हुए रोज़ देखने वाले एक #व्यक्ति ने कौतुहल से गार्ड बनने वाले बच्चे को पास बुलाकर पूछा.... "बच्चे, तुम रोज़ गार्ड बनते हो। तुम्हें कभी इंजिन, कभी डिब्बा बनने की इच्छा नहीं होती?" इस पर वो बच्चा बोला... "#बाबूजी, मेरे पास पहनने के लिए कोई #शर्ट नहीं है। तो मेरे पीछे वाले बच्चे मुझे कैसे पकड़ेंगे... और मेरे पीछे कौन खड़ा रहेगा....? इसीलिए मैं रोज गार्ड बनकर ही खेल में #हिस्सा लेता हूँ। "ये बोलते समय मुझे उसकी #आँखों में पानी दिखाई दिया। आज वो बच्चा मुझे #जीवन का एक बड़ा #पाठ पढ़ा गया... *अपना जीवन कभी भी #परिपूर्ण नहीं होता। उसमें कोई न कोई #कमी जरुर रहेगी....* वो बच्चा #माँ-बाप से ग़ुस्सा होकर रोते हुए बैठ सकता था। परन्तु ऐसा न करते हुए उसने #परिस्थितियों का समाधान ढूंढा। हम कितना रोते हैं? कभी अपने साँवले रंग के लिए, कभी #छोटे क़द के लिए, कभी पड़ौसी की बडी कार, कभी पड़ोसन के गले का हार, कभी अपने #कम मार्क्स, कभी #अंग्रेज़ी, कभी #पर्सनालिटी, कभी #नौकरी की मार तो कभी धंदे में मार...हमें इससे बाहर आना पड़ता है.... *ये जीवन है... इसे ऐसे ही #जीना पड़ता है।* *चील की ऊँची उड़ान देखकर चिड़िया कभी डिप्रेशन में नहीं आती,* *वो अपने आस्तित्व में मस्त रहती है,* *मगर इंसान, #इंसान की ऊँची उड़ान देखकर बहुत जल्दी चिंता में आ जाते हैं।* *तुलना से बचें और खुश रहें*। *ना किसी से ईर्ष्या , ना किसी से कोई होड़..!!!* *मेरी अपनी हैं मंजिलें , मेरी अपनी दौड़..!!!* *"परिस्थितियां कभी #समस्या नहीं बनती,* *समस्या इस लिए बनती है, क्योंकि हमें उन परिस्थितियों से #लड़ना नहीं आता।"* ¸.•*""*•.¸ ????? Thakur g tushar

Ankush Abvp
(@abvpankushabvp)

5 Days 17 Hours Ago

#किसानों को 50000रूपये तक कर्ज माफी,#युवाओं को रोजगार,#मजदूरो को ₹200000 तक ब्याज मुक्त ऋण, #महिलाओ,एवं #मंदिरो आदि को ध्यान में रखते हुए,यशस्वी मुख्यमंत्री #वसुंधरा_राजे_जी द्वारा #ऐतिहासिक बजट पेश करने पर हार्दिक #आभार एवं #धन्यवाद।

Sunil Bhiduri
(@sbhiduri)

8 Days 1 Hour Ago

*जब #किसानो व #मजदुरो के बच्चे* *पढ-लिख कर उन #कुर्सीयो तक पहुँचेगें जहाँ #देश की नितिया बनती है. #क्रियान्वित होती है. तब जाकर #भारत का सही मायने में #विकास होगा.* *#स्वर्गीय श्री राजेश जी पायलट लोकप्रिय नेता , किसानों के मसीहा स्वर्गीय श्री #राजेश जी #पायलट की #73वी जयंती पर शत् शत् नमन सुनील भिदुडी भिवाडी

*जब #किसानो व #मजदुरो के बच्चे* *पढ-लिख कर उन #कुर्सीयो तक पहुँचेगें जहाँ #देश की नितिया बनती है. #क्रियान्वित होती है. तब जाकर #भारत का सही मायने में #विकास होगा.* *#स्वर्गीय श्री राजेश जी पायलट को सत सत नमन..💐💐🙏🙏

#जब #किसानो व #मजदुरो के बच्चे* #पढ-लिख कर उन #कुर्सीयो तक पहुँचेगें जहाँ #देश की नितिया बनती है. #क्रियान्वित होती है. तब जाकर #भारत का सही मायने में #विकास होगा.* *#स्व_राजेश_पायलट_जी को शत शत नमन आज डीडवाना बस स्टैण्ड मिर्धा पार्क में सुबह 11 बजे पायलट साब की जयंती मनायी जायेगी

#बजरी_खनन रोक से #मजदूरों की बढ़ती मुश्किलों पर डेली न्यूज़ में प्रकाशित #लेख मुकेश कुमावत बोराज, जयपुर @mukesh.kumawat.boraj @mukeshkumawatblogwriter

#बजरी_खनन रोक से #मजदूरों की बढ़ती मुश्किलों पर डेली न्यूज़ में प्रकाशित #लेख मुकेश कुमावत बोराज, जयपुर @mukesh.kumawat.boraj @mukeshkumawatblogwriter

Ashish Rao
(@ashu_rao000)

15 Days 2 Hours Ago

#आज बेरन नू बोली अंक #तू इतनी अच्छी #पोस्ट करे है #सोचूँ हुँ #ताजमहल के #मजदूरां की #तरियाँ #तेरी बी उँगलियाँ #कटवा दूँ

Sayeed Naseem
(@naseemsayeed)

15 Days 14 Hours Ago

#आम #जनत#क#लिए #निराशा #भर#बजट #है :- #सईद #नसीम #गरीब , $किसान, #मजदूर को #निराशा #बेरोजगार युवाओं को हताशा, छोटे #कारोबारियों, #महिलाओं, #नौकरीपेशा और आम लोगों के लिये निराशा भरा बजट है आख़री बजट में भी भाजपा ने दिखा दिया कि वो बड़े #उधोगपतियो की हिमायती है। बजट में सरकार #कृषि, ग्रामीण #अर्थव्यवस्था, #स्वास्थ्य, #इन्फ्रा और वरिष्ठ नागरिकों पर ध्यान #केंद्रित नही है।सरकार #कारोबार करने में आसानी से लेकर गरीबों और मध्यमवर्गीय वर्ग के लिए #जीवनयापन को आसान बना पाने में नाकाम रही है। बहुत उम्मीद थी आम जनता को लेकिन #निराशा ही हाथ लगी।इस बजट में किसानों और समाज #पिछड़े वर्ग के लोगों के लिए कुछ खास नहीं किया गया है। आज जी एस टी और नोट बन्दी के बाद खराब वक्त को देखते हुए #बजट का कम आवंटन से आम जनता करोबारी बेरोजगार #नवजवानों में निराशा है। #अमेरिका जैसे #विकसित मुल्क का #राष्ट्रपति 10 वर्ष में 2.5 करोड़ रोजगार देने की बात करती है और हमारे मुल्क के #प्रधानमंत्री 1 वर्ष में 2 #करोड़ आप समझ सकते है कितनी #फरेब और #जुमलेबाजी वाली #सरकार है। Sayeed Naseem

Sayeed Naseem
(@naseemsayeed)

15 Days 14 Hours Ago

#आम #जनत#क#लिए #निराशा #भर#बजट #है :- #सईद #नसीम #गरीब , $किसान, #मजदूर को #निराशा #बेरोजगार युवाओं को हताशा, छोटे #कारोबारियों, #महिलाओं, #नौकरीपेशा और आम लोगों के लिये निराशा भरा बजट है आख़री बजट में भी भाजपा ने दिखा दिया कि वो बड़े #उधोगपतियो की हिमायती है। बजट में सरकार #कृषि, ग्रामीण #अर्थव्यवस्था, #स्वास्थ्य, #इन्फ्रा और वरिष्ठ नागरिकों पर ध्यान #केंद्रित नही है।सरकार #कारोबार करने में आसानी से लेकर गरीबों और मध्यमवर्गीय वर्ग के लिए #जीवनयापन को आसान बना पाने में नाकाम रही है। बहुत उम्मीद थी आम जनता को लेकिन #निराशा ही हाथ लगी।इस बजट में किसानों और समाज #पिछड़े वर्ग के लोगों के लिए कुछ खास नहीं किया गया है। आज जी एस टी और नोट बन्दी के बाद खराब वक्त को देखते हुए #बजट का कम आवंटन से आम जनता करोबारी बेरोजगार #नवजवानों में निराशा है। #अमेरिका जैसे #विकसित मुल्क का #राष्ट्रपति 10 वर्ष में 2.5 करोड़ रोजगार देने की बात करती है और हमारे मुल्क के #प्रधानमंत्री 1 वर्ष में 2 #करोड़ आप समझ सकते है कितनी #फरेब और #जुमलेबाजी वाली #सरकार है। Sayeed Naseem

एक छोरी नू बोली अंक #तू इतनी अच्छी #पोस्ट करे है #सोचूँ हुँ #ताजमहल के #मजदूरां की #तरियाँ #तेरी बी उँगलियाँ #कटवा दूँ😂😂

Alisha 💕
(@bitchwati__)

26 Days 13 Hours Ago

सर्दी की धूप #मजदूरी

Ankur Bhuriya
(@ankur_bhuriya)

28 Days 21 Hours Ago

#indigenous_life🌷 #बहुत कुछ कह जाती है #मालिक से #मजदुर तक की ये #खामोश_तस्वीर। #जोहार_आदिवासी🌷🍀🎯

*संघर्ष करते हुए मत घबराना मेरे* *दोस्तों क्योंकि संघर्ष के दौरान ही इंसान अकेला होता है,सफलता के बाद तो* #सारी_दुनिया साथ हो जाती है। #गांव-#गरीब-#मजदुर-#युवा के हकों की लड़ाई लड़ना हमारी समाजसेवा का मकसद है* हमने यह ठाना है युवाओ को जगाना है #नदबई को बचाना है आपका अपना युवा साथी गुलवीर सिंह करीली युवा समाजसेवी मो:-7891777824

Deep Vats
(@vats999143)

2018-01-17 06:35:14

#आज बेरन नू बोली अंक #तू इतनी अच्छी #पोस्ट करे है #सोचूँ हुँ #ताजमहल के #मजदूरां की #तरियाँ #तेरी बी उँगलियाँ #कटवा दूँ☹️☹️🤐

sanjusaini
(@sanjusaini1873)

2018-01-16 17:54:00

#आज बेरन नू बोली अंक #तू इतनी अच्छी #पोस्ट करे है #सोचूँ हुँ #ताजमहल के #मजदूरां की #तरियाँ #तेरी बी उँगलियाँ #कटवा दूँ

Golu Sheoran
(@sheoran.golu)

2018-01-15 04:32:53

#आज बेरन नू बोली अंक #तू इतनी अच्छी #पोस्ट करे है #सोचूँ हुँ #ताजमहल के #मजदूरां की #तरियाँ #तेरी बी उँगलियाँ #कटवा दूँ

Golu Sheoran
(@sheoran.golu)

2018-01-15 04:26:27

#आज बेरन नू बोली अंक #तू इतनी अच्छी #पोस्ट करे है #सोचूँ हुँ #ताजमहल के #मजदूरां की #तरियाँ #तेरी बी उँगलियाँ #कटवा दूँ.. jaat g

Aslam.Khan
(@aslam.khan1144)

2018-01-14 20:16:18

#जजों पर राजनीति ठीक नही #जीएसटी पर राजनीति ठीक नही #नोटबन्दी पर राजनीति ठीक नही #शहीदों की संख्या पर बोलना ठीक नही #किसानों की मौत पर बोलना ठीक नही #मजदूर की आवाज उठाना ठीक नही #विदेशनीति पर सवाल ठीक नही #जस्टिस लोया पर राजनीति ठीक नहीं. यह सब पूछना आम जनता का अधिकार नहीं है

#आज बेरन नू बोली अंक #तू इतनी अच्छी #पोस्ट करे है #सोचूँ हुँ #ताजमहल के #मजदूरां की #तरियाँ #तेरी बी उँगलियाँ #कटवा दूँ..d.p

शुभम
(@d.u.b.e.y_shubham)

2018-01-09 02:01:16

सो जाता है फुटपाथ पे #अख़बार बिछा कर... #मजदूर कभी नींद की गोली नही खाता.. ✌✌✌

निशाचर
(@_nishachar)

2018-01-08 04:21:02

#मजदूरी_टाइम

#आज बेरन नू बोली अंक #तू इतनी अच्छी #पोस्ट करे है #सोचूँ हुँ #ताजमहल के #मजदूरां की #तरियाँ #तेरी बी उँगलियाँ #कटवा दूँ

Manjeet Nandal
(@manjeetnan)

2018-01-05 09:27:36

#आज बेरन नू बोली अंक #तू इतनी अच्छी #पोस्ट करे है #सोचूँ हुँ #ताजमहल के #मजदूरां की #तरियाँ #तेरी बी उँगलियाँ #कटवा दूँ

akash tiwari
(@akashtiwari75631)

2017-12-27 19:23:54

*#positive #attitude* एक घर के पास काफी दिन से एक बड़ी इमारत का काम चलj रहा था। वहां रोज #मजदूरों के छोटे-छोटे #बच्चे एक दूसरे की शर्ट पकडकर रेल-रेल का #खेल खेलते थे। रोज कोई बच्चा इंजिन बनता और बाकी बच्चे डिब्बे बनते थे... इंजिन और डिब्बे वाले बच्चे रोज बदल जाते, पर... केवल चङ्ङी पहना एक छोटा बच्चा हाथ में रखा कपड़ा घुमाते हुए रोज गार्ड बनता था। *एक दिन मैंने देखा कि* ... उन बच्चों को खेलते हुए रोज़ देखने वाले एक #व्यक्ति ने कौतुहल से गार्ड बनने वाले बच्चे को पास बुलाकर पूछा.... "बच्चे, तुम रोज़ गार्ड बनते हो। तुम्हें कभी इंजिन, कभी डिब्बा बनने की इच्छा नहीं होती?" इस पर वो बच्चा बोला... "#बाबूजी, मेरे पास पहनने के लिए कोई #शर्ट नहीं है। तो मेरे पीछे वाले बच्चे मुझे कैसे पकड़ेंगे... और मेरे पीछे कौन खड़ा रहेगा....? इसीलिए मैं रोज गार्ड बनकर ही खेल में #हिस्सा लेता हूँ। "ये बोलते समय मुझे उसकी #आँखों में पानी दिखाई दिया। आज वो बच्चा मुझे #जीवन का एक बड़ा #पाठ पढ़ा गया... *अपना जीवन कभी भी #परिपूर्ण नहीं होता। उसमें कोई न कोई #कमी जरुर रहेगी....* वो बच्चा #माँ-बाप से ग़ुस्सा होकर रोते हुए बैठ सकता था। परन्तु ऐसा न करते हुए उसने #परिस्थितियों का समाधान ढूंढा। हम कितना रोते हैं? कभी अपने साँवले रंग के लिए, कभी #छोटे क़द के लिए, कभी पड़ौसी की बडी कार, कभी पड़ोसन के गले का हार, कभी अपने #कम मार्क्स, कभी #अंग्रेज़ी, कभी #पर्सनालिटी, कभी #नौकरी की मार तो कभी धंदे में मार...हमें इससे बाहर आना पड़ता है.... *ये जीवन है... इसे ऐसे ही #जीना पड़ता है।* *चील की ऊँची उड़ान देखकर चिड़िया कभी डिप्रेशन में नहीं आती,* *वो अपने आस्तित्व में मस्त रहती है,* *मगर इंसान, #इंसान की ऊँची उड़ान देखकर बहुत जल्दी चिंता में आ जाते हैं।* *तुलना से बचें और खुश रहें*। *ना किसी से ईर्ष्या , ना किसी से कोई होड़..!!!* *मेरी अपनी हैं मंजिलें , मेरी अपनी दौड़..!!!* *"परिस्थितियां कभी #समस्या नहीं बनती,* *समस्या इस लिए बनती है, क्योंकि हमें उन परिस्थितियों से #लड़ना नहीं आता।"* ¸.•*""*•.¸ ????? http://bit.ly/1WEy1S7

PaRAS AhiR
(@naughty_kanudoo)

2017-12-23 23:32:36

आज के किसान की क्या हालात है उस पर मेरी स्वलिखित एक छोटी सी कविता #dedicated To #all_farmers #किसान दिवस😊😊🤗🤗🤗 #मजदूर_किसान #by - Paras Ahir

#जिंदगी #मजदूर #हुई_जा_रही_है और #लोग #साहब #कहकर_ताने_मार_रहे_है

#news #sawaimadhopur #भारतसरकार के निर्देशानुसार #प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना का क्रियान्वयन को लेकर आज #नगरपरिषद सभागार में एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन हुआ। उक्त योजना का मुख्य उद्देश्य #गर्भवती महिलाओं को #मजदूरी के आंशिक क्षतिपूर्ति के रूप में नगद प्रोत्साहन प्रदान करना है। इस योजना में प्रथम #जीवित #बच्चे से सम्बन्धित समस्त गर्भवती महिलाएं एवं धात्री माताएं योजना के लाभ लेने की पात्र होंगी। योजना के तहत तीन किश्तों में #5000 रुपए सीधे खाते में जमा होंगे। . . #oneday #training #camp #organized #citycouncil #implementation #primeminister #matavandanayojna #government #india #rajasthan #scheme #pregnent #woman #mothers #benfit #5000 #money . . वीडियो देखें @sawaimadhopurapp के #फेसबुक पेज पर।

Atul kumar Rjd
(@atul4403)

2017-12-19 23:20:57

#आवाज_दो_हम_एक_है। #मजदूर_विरोधी_ये_सरकार_नहीं_चलेगी_नहीं_चलेगी #ये_सरकार_निकम्मी_है_ये_सरकार_बदलनी_है। बिहार में आज भी तनाव की स्थति बनी हुई है।जिस तरह से बिहार में बिहार के मुखिया नितीश कुमार जी ने बालू गीटी के साथ साथ गरीबो को मिलने वाले किराशन तेल को भी बंद दिए है। आज गरीब मजदूर लोग सड़क पर आ गए है।बालू गीटी बंद होने के कारण उनका पेट चलना भी मुश्किल हो गया।और गरीब विरोधी ये सरकार मजदूरों के पेट पर लात मारकर बहरी बनी हुई है। तो हम चुप नहीं बैठने वाले है। हमलोगो गरीब मजदूरों के हक के लड़ाई पहले भी लड़ते आए है। और आगे भी लड़ते रहेंगे। चुनाव में अक्सर गरीब,मजदूर किसानों के बारे में बात करने वाले सुशिल मोदी,नीतिश जी,रामविलास जी आज कहाँ है। सब?? अब उन्हें गरीबो की याद नहीं आ रही है। सड़क पर आ गए है।मजदूर लोग,दो वक्त की रोटी चलना भी मुश्किल हो गया, मै बिहार के तमाम उन बड़े नेताओं से कहना चाहता हूं।क्या ये बिहार के मजदूर किसान लोग सिर्फ चुनाव में ही याद आते है। आज कहाँ है।आप लोग?? और नितीश कुमार जी किस बिकास की बात करते है।आप!!!कौन सी सुशासन की बात करते है।आप,आज बिहार के कोने कोने में विष के तरह अपराध फैला हुआ है। दलितों को पड़ताडित किया जा रहा है।,अपराधी बेख़ौफ़ खुम रहे है। और आप सत्ता के नशा में चूर होकर मौनी बाबा बने हुए है। और रोज टीवी पर अपने प्रवक्ताओं से बोलवाते है।कि लालू यादव चोर है। चोर तो आप है।नीतीश जी,गीटी की चोर,बालू की चोर!! बिहार में बालू,गीटी को बंद करवा के गरीब मजदूरों के जान लेने पर तुले है।आप,आपने कभी सोचा है। क्या गुजरता होगा उस मजदूर के मासूम परिवारो के उपर जिसके मजदूरी के मात्र 100-200रुपये ही उसके परिवार के दो वक्त का निवाला था अगर कोई गरीबो के हक लिए लड़ता है।मजदूरों के आवाजो को बुलंद करता है।तो वो चोर हो जाता है। सुनिये आज मैं फिर कहता हूँ लालू यादव चोर नहीं गरीब,किसान मजदूरों की आवाज है।लालू यादव वो ताकत है।जो गरीबो को मान स्वाभिमान से जीना सिखाया,अपने हक के लिए लड़ना सिखाया है।उन्हें कभी झुकने नहीं दिया और आज भी जब जब इन गरीब लोगो पर अत्याचार होगा तब तब आप जैसे अत्याचारियों से लड़ने के लिए हर घर से एक लालू पैदा होगा आप अपने प्रवक्ताओ से गाली दिलवाना बंद कीजिए। और बिहार के विकास पर ध्यान दीजिए।वरना यही गरीब जनता आने वाले चुनावो में आपको सबक सिखायेगी! धन्यवाद निवेदक:-अतुल कुमार युवा राजद प्रखंड प्रवक्ता कुढ़नी मुजफ्फरपुर