#igwriters

1,555,085 posts tagged with #igwriters

Photos and Videos about #igwriters

वेड लावी मना का कोणास ठाऊक मन माझे वळते तु नसतेस तेव्हा मन माझे भटकते अस काय आहे तुझ्यामध्ये,तुझी चाहूल मला लागते सतावते वेडे मन हे स्वप्न पण दिवसा पाहते तु जेव्हा अंगणात हुंदळते मला कोडे पडल्यागत वाटते तु पाहते जेव्हा,तेव्हा मला भीती खूप वाटते तु जीवनात माझ्या आली जसे हिरवेगार रान ते ओशाळाल्या पाऊसधारा स्वप्न झाले ओलेचिंब तु नसतेस तेव्हा ढग दाटून येतात मनी तु असतेस तेव्हा स्वप्न पुन्हा चालू होतात मनोमनी तु अशी काय जादू केली वेड मला लागले तु हसली तेव्हा कोडे हे उलगडले कोडे हे उलगडले! Follow my writings on @yourquoteapp #yourquote #quote #stories #qotd #quoteoftheday #wordporn #quotestagram #wordswag #wordsofwisdom #inspirationalquotes #writeaway #thoughts #poetry #instawriters #writersofinstagram #writersofig #writersofindia #igwriters #igwritersclub

(@am_tt_12)

2 Minutes Ago

वेड लावी मना का कोणास ठाऊक मन माझे वळते तु नसतेस तेव्हा मन माझे भटकते अस काय आहे तुझ्यामध्ये,तुझी चाहूल मला लागते सतावते वेडे मन हे स्वप्न पण दिवसा पाहते तु जेव्हा अंगणात हुंदळते मला कोडे पडल्यागत वाटते तु पाहते जेव्हा,तेव्हा मला भीती खूप वाटते तु जीवनात माझ्या आली जसे हिरवेगार रान ते ओशाळाल्या पाऊसधारा स्वप्न झाले ओलेचिंब तु नसतेस तेव्हा ढग दाटून येतात मनी तु असतेस तेव्हा स्वप्न पुन्हा चालू होतात मनोमनी तु अशी काय जादू केली वेड मला लागले तु हसली तेव्हा कोडे हे उलगडले कोडे हे उलगडले! Follow my writings on @yourquoteapp #yourquote #quote #stories #qotd #quoteoftheday #wordporn #quotestagram #wordswag #wordsofwisdom #inspirationalquotes #writeaway #thoughts #poetry #instawriters #writersofinstagram #writersofig #writersofindia #igwriters #igwritersclub

(@poetunloaded)

4 Minutes Ago

आज दशहरा के अवसर पर केवल राम और रावण के द्वन्द की ही बात की जाती है... लेकिन आज जो परिवेश है उसमें एक पक्ष यह भी उभर कर आता है कि एक औरत स्वयं इतनी आत्मनिर्भर क्यों नहीं कि वह स्वयं अपनी रक्षा कर सके...??? तो पढ़िए इस पर कुछ अलग...और जुड़ाव महसूस हो तो सूचित करें... राम रावण के द्वन्द से एक प्रश्न मेरे मन में भी उठता है... रह रह कर मन मेरा भी बस एक यही बात पूछता है... जब भी चर्चा हो रामायण की लोग राम का गुणगान करते हैं... रावण के प्रति रोष रखते हैं... ठहराते हैं हर वस्तुस्थिति को सही युद्ध के लिए केवल एक स्त्री को दोष देते हैं... सीता को रावण ले गया क्या इसमें सीता की ही गल्ती थी... क्यों उसे ही पालन करना था बंदिशों का क्यों उसे वह लक्ष्मण रेखा पार नहीं करनी थी... क्यों लक्ष्मण ने नहीं सोचा कि सीता को भी तरकश दे दे बाण दे दे... केवल रेखा क्यों खींची बाण से .... क्यों सोचा नहीं एक क्षत्राणी को प्रशिक्षित कर उसे अपने हाथो करने को त्राण दे दे... गर ऐसा हो पाता यूं घसीट कर रावण ना ले जा पाता... वो बेबस हो यूं राम और लक्ष्मण को न पुकारती... लड़ती वह स्वयं अपनी रक्षा के लिए... यूं त्राहि माम त्राहि माम ना करती.... क्यों उसने केवल बंधन ही सही समझा... जब सीता अपने सतीत्व की रक्षा कर सकती है तो अपने प्राणों की क्यों नहीं?? क्यों अब भी रामायण को सुनने वाले लोग आज भी सीता में ही गल्ती ढूंढते हैं क्यों कसूरवार ठहराते हैं उसे उसके अपहरण का... क्यों नहीं मानते वो कि उसे आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देना चाहिए था... जब राम और लक्ष्मण वीर योद्धा थे तो क्यों नहीं सीता वीरांगना बन सकती.... अब भी समय है .... अपनी बेटियों को घरों में न बंद करो... न वास्ता दो उन्हें मर्यादा का... न उन्हें राक्षसों से डराओ... तीर कमान दो उनके हाथ में और बंधनों से मुक्त कर उन्हें घर से बाहर लाओ... ताकि हर हैवान को यह सबक मिले नारी अबला नहीं सबला है थर थर कांपे रूह जालिमों की हर शैतान परिणाम से डरे... फिर न हो बेबस नारी  फिर कोई रावण किसी सीता का अपहरण न करें........... Follow :- @zindagi_ek_khwab_si @inspiring16 @fitoori_7 @sirf_tum_hi_ # _________________________________ Share || Tag || likes❤️ || Cmnts _________________________________ #writeaway #gazal #ghazal #sher #shayari #instapoet#instapoetry #instapoet #instashayar #instawriters#igbooks #igpoet #igwriters #urdupoetry #urdu #skp2081 #quoteoftheday #wordporn #quotestagram #wordswag #wordsofwisdom #inspirationalquotes #writeaway

Swipe to listen . . . ©HP Didn't feel like writing so shared four short audio clips to share my thoughts. (It is easy to say but it is not easy to feel what others are going through. Stay with those who love you no matter what. Not everyone can say or are able to speak up their mind.) . . . . .